5 मार्च को आईरा का महत्वपूर्ण कार्यक्रम

 

…. प्रदीप कुमार नायक

…..स्वतंत्र लेखक एवं पत्रकार

………… भारत के प्रतिष्ठित, विश्वसनीय और सबसे बड़ा ठोस संगठन आईरा ने 05 मार्च 2023 को अपना 9 वां स्थापना दिवस सह पत्रकार सम्मान समारोह मधुबनी जिला मुख्यालय के धरती पर मनाने का जो निर्णय लिया हैं, वह एकदम सराहनीय और तारीफ़े काबिल हैं।आईरा अपने आयोजन में बुलाकर समाचार पत्रों को विज्ञापन के दबाव से मुक्त कर पाठकों को ध्यान में रखकर पत्रकारिता करने ,मीडिया जगत को किसी धारा में नहीं बटने एवं घटनाओं को सनसनी खेज खबर नहीं बनाकर जाँच परख कर प्रकाशित कराने पर जोर देंगे।दिग्गज पत्रकारों द्वारा पत्रकारों को दिमाग की बत्ती जलाकर रखने,कमेंटेटर बनने से बचने,पाठकों को शीर्ष और चुटीली खबरों की लती नहीं बनाने जैसी बातों से परहेज कर अच्छी पत्रकारिता पर जोर दिया जायेगा।स्वतंत्र और जबावदेह पत्रकारिता के लिए यह कार्यक्रम अत्यन्त ही महत्वपूर्ण होनेवाला हैं।

आज के समय में इसी तरह से पत्रकारिता के विश्वास को मीडिया जगत ने धूमिल कर दिया हैं।जिससे पत्रकार को सामाजिक विडंबनाओं का शिकार होना पड़ रहा हैं।यहाँ तक कि जान के लाले पड़ने लगा हैं।वर्तमान माहौल में यह आयोजन स्वयं आयोजक के लिए ” पर उपदेश कुशल बहुतेरे ” साबित होंगे।पत्रकारिता में सामाजिकता के क्षेत्र में जाति,बल,धनबल प्रबल होगा तो वहीं पौराणिक कथाओं की तरह सूर्य,इन्द्र, परशुराम, द्रोणाचार्य, कर्ण एवं एकलव्य जैसे हस्तियों के सृजन के बीच अपनी-अपनी श्रेष्ठता कायम होती रहेगी और पत्रकारिता दिशाहीन हो जायेगी।

……………. स्वतंत्र लेखक एवं पत्रकारिता क्षेत्र से जुड़े प्रदीप कुमार नायक कहते हैं कि सामाजिक परिवर्तन के लिए जन संचार सशक्त माध्यम के साथ उत्प्रेरक का कार्य कर रहा हैं।मीडिया को अपने समक्ष आ रही चुनौतियों का सामना करते हुए सही दिशा में निर्णय लेना चाहिए।नकारात्मक, विवाद,अपराध,भ्रष्टाचार, हिंसा व क्रोध आदि बुराइयों के फैलाव पर अंकुश लगाने में सहयोगी बनते हुए आंतरिक परिवर्तन के लिए योगाभ्यास व राजयोग को अपनाना बेहतर होगा।आंतरिक सशक्तिकरण के लिए विश्वसनीयता रचनात्मक के साथ आम आदमी की समस्याओं के निवारण में सहयोग करना मीडिया का नैतिक धर्म हैं।आध्यात्मिकता एवं मूल्यों के विकास के लिए स्वस्थ सामग्री परोसनी होगी।आध्यात्मिकता के महत्व को समझने व महसूस करने के बाद पत्रकारिता में उत्कृष्टता लाना आसान हो जायेगा।

भारत में लोकतंत्र यदि अब तक जीवित है तो इसके श्रेय में पत्रकारिता प्रमुख स्थान रखती हैं।मीडिया के लिए स्वतंत्रता तो जरूरी हैं।लेकिन उच्श्रृंखलता से बचाव करना चाहिए। निजी जीवन के स्वार्थो से ऊपर उठकर विश्व बंधुत्व का प्रसार करने में मीडिया निर्णायक भूमिका निभा सकता हैं।

आईरा के जिला संरक्षक श्री गाँधी मिश्रा ने ग्रुप में लिखते हुए कहाँ की सम्मानित साथियों अपार हर्ष के साथ सूचित करना चाहता हूं कि संगठन को विस्तारित करने एवं सकुशल संचालन के लिए एक सरंक्षक मंडल का गठन किया जा रहा है। जिसमें, श्रीयुत मोल बाबू , श्रीयुत सच्चिदानंद बाबू (बाबा), श्री विद्याधर झा (बाबा), श्रीयुत शैलेंद्र कुमार झाजी, श्रीयुत प्रदीप कुमार नायक जी, श्रीयुत दिनेश सिंह जी, श्रीयुत ब्रिजेशचंद्र जी को आईरा के जिला संरक्षक मंडल में शामिल किया जा रहा है। जिसमें, श्री मोल बाबू को अनुशासन समिति का श्री सच्चिदानंद बाबू को मार्गदर्शन समिति का, श्री विद्याधर बाबू को नियंत्रण समिति का, श्री शैलेंद्र कुमार झा जी को कार्य योजना एवं मंत्रणा समिति का, श्री प्रदीप कुमार नायकजी को सांगठनिक, श्री दिनेश सिंह जी को आईटी सेल का एवं श्री ब्रिजेशचंद्र जी को मीडिया प्रभारी नामित किया जाता है। इन लोगों से मंत्रणा के बाद जल्द ही तत्काल कार्यकारी अध्यक्ष की घोषणा की जाएगी। प्रखंड स्तर पर सांगठनिक ढ़ांचा गठित होने के बाद स्थायी अध्यक्ष का चयन सर्वसम्मति से किया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष महोदय से आग्रह है कि इसका अनुमोदन कर स्वीकृति प्रदान करने की कृपा की जाय।

आईरा के तेजस्वी प्रदेश अध्यक्ष श्री सुमन मिश्रा ने कहाँ की आदरणीय संरक्षक महोदय

आपने जिस प्रकार से हम सभी के अभिभावकों को उचित स्थान देने की घोषणा की है ।मेरा ही नही बल्कि मुझे विश्वास है कि आईरा मधुबनी के हमारे सभी जांबाज़ साथी का भी मन प्रफुल्लित हुआ होगा ।स्थापना दिवस के पूर्व संगठन को धारदार बनाने की जो कवायद आप सभी ने शुरू किया है ।काबिले तारीफ़ है ।सभी को दिल अब बधाई और अभिभावकों को चरणस्पर्श। मैं इस कमिटी को स्वीकार कर अनुमोदित करता हूँ।सादर डॉ सुमन मिश्रा प्रदेश अध्यक्ष आईरा

इस बीच आईरा का एक बैठक फुलपरास में हुई,जिसमे संरक्षक श्री गाँधी मिश्रा ने जिला अध्यक्ष पद पर अजयधारी सिंह झा का नाम प्रस्ताव रखा जिसपर सभी लोगों ने सर्व सम्मति से मुहर लगा दी।

लेखक – स्वतंत्र लेखक एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में विभिन्न पत्र – पत्रिकाओं, संचार पत्र एवं चैंनलों में अपनी योगदान दे रहें हैं।

मोबाइल – 8051650610

प्रतिक्रिया

सम्बन्धित समाचार